Scrollup

चुनाव आचार संहिता लगते ही नयागॉव चेकपोस्ट पर चुनावी चंदा एकत्रीकरण चालू -नवीन कुमार अग्रवाल
क्या चुनाव आयोग इस पर संज्ञान लेगा -नवीन कुमार अग्रवाल

आम आदमी पार्टी के लगातार संगर्ष एवं तत्कालीन ईमानदार एवं कर्तव्यनिष्ठ जिला अधिकारियो नंदकुमारम एवं तरुण नायक की सक्रियता के चलते कांग्रेस के शासनकाल से चला आ रहा एवं भाजपा के शासन काल में पोषित नयागाव परिवहन चेकपोस्ट पर प्रतिदिन 2 करोड़ रूपये का भ्रस्टाचार लम्बे संगर्ष के बाद बंद होने के साथ ही 21 परिवहन चेकपोस्ट पूर्णतया बंद हो गए थे ,जिसके कारन गरीब ट्रक ड्राइवर साथियो को भ्रस्टाचार एवं गुंडागर्दी से राहत मिली थी लेकिन आखिरकार उच्च राजनैतिक एवं प्रशासनिक संरक्षण के चलते जैसे ही चुनाव आचार संहिता लगी वहा बैठे भ्रस्ट अधिकारियो को जैसे पंख लग गये और नयागाव परिवहन चेकपोस्ट पर पुनः ट्रक ड्राइवर साथियो से चुनावी चंदे के रूप में अवैध वसूली गुण्डातत्वो के बल पर चालू कर दी गयी और खुले आम मध्यप्रदेश से राजस्थान में जाने वाले एवं राजस्थान से मध्यप्रदेश में आने वाले वाहनों से 300 से 15000 रुपये तक की अवैध वसूली चुनावी चंदे के रूप में प्रति वाहन प्रति चक्कर ली जाने लगी है /
आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी एवं प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य नवीन कुमार अग्रवाल ने कहा है की लगातार 3 वर्षो के संगर्ष के कारन नयागाव परिवहन चेकपोस्ट पर अवैध वसूली बंद हो गयी थी लेकिन जैसे ही चुनावी आचार संहिता लगने की आहट मिली नयागाव चेकपोस्ट पर तैनात भ्रस्ट अधिकारियो एवं उनके पालतू गुंडों द्वारा पुनः जमकर चुनावी चंदा एकत्रीकरण प्रारम्भ कर दिया गया है जो की सीधे सीधे चुनाव आयोग के ऊपर एक प्रश्न चिन्ह उत्पन्न करता है की एक और तो चुनाव आयोग चुनाव से काले धन को बाहर करना चाहता है दूसरी और चुनावी आचार संहिता के चलते इस प्रकार से काला धन एकत्रीकरण किया जा रहा है और साथ ही किस के पास यह चुनावी चंदा जमा होगा और कहा उपयोग होगा यह जाँच का विषय है ? अग्रवाल ने कहा की इस सम्बन्ध में तुरंत चुनाव आयोग द्वारा संज्ञान लेकर सम्बंधित अधिकारियो के ऊपर वैधानिक कारवाही करना चाहिए ,अन्यथा चुनाव आयोग का निष्पक्ष चुनाव करवाने का सपना सपना ही रह जावेंगा /
अग्रवाल ने बताया की हमने इस सम्बन्ध में वाहन चालकों से बात कर विडिओग्राफी की है जिसमे उन्होंने अवैध वसूली की सच्चाई बताई है साथ ही किस प्रकार से उन्हें नयागाव परिवहन चेकपोस्ट पर अधिकारियो एवं उनके पालतू गुण्डातत्वो द्वारा परेशान किया जाता है उसकी बात विडिओग्राफी में अपने दिए बयानों में बताई है /

4000 रूपये नहीं देने पर सरदार के साथ की गुंडागर्दी
में गुड़गांव से सामान लेकर मध्यप्रदेश आया हु और जैसे ही में राजस्थान की अंतिम बॉर्डर पर आया वंहा तैनात राजस्थान पुलिस ने मुझसे 100 रूपये सड़क पर ही ले लिए और वंहा से जैसे ही में तोल कांटे पर नयागाव आया मुझसे 60 रूपये लेकर समस्त कागजात जाँच करने के बाद ओके की रिपोर्ट कम्प्यूटरीकृत देकर रसीद दे दी और मुझे परिवहन चेकपोस्ट पर जाने के लिए कहा जबकि मेरे सभी कागजात ओके थे /जैसे ही में परिवहन चेकपोस्ट की खिड़की पर पहुंचा मुझसे रूपये मांगे, नहीं देने पर वाहन को खड़ा करने के लिए कहा / फिर मैंने रूपये दिए और मेरी तोल पर्ची पर मोहर लगाकर मुझे जाने के लिए कहा /मै रूपये नहीं देना चाहता था लेकिन मेरे सामने एक सरदार को जो की 12 चक्का गाड़ी लेकर आया था उसके अवैध वसूली के पैसे नहीं देने पर वंहा तैनात गुण्डातत्वो एवं अधिकारियो ने अंदर से बहार आकर उसे हाथापाई कर जबरदस्ती 4000 रूपये ले लिए उस बात से डरकर मैंने भी रूपये दे दिए / जो रुपये हमसे लिए थे उसकी रसीद मांगने पर नहीं दी और कहा की चुनावी चंदे की कोई रसीद होती है क्या ?
विनोद मिश्रा, पीड़ित वाहन चालक गुड़गांव हरियाणा

मुख्य चुनाव आयोग को करेंगे शिकायत
अग्रवाल ने कहा की प्रतिदिन यहाँ से हजारो की संख्या में वाहन निकलते है जिससे आप अनुमान लगा सकते हो की प्रति दिन लाखो रुपयों का चुनावी चंदा यंहा एकत्र किया जा रहा है / हम इस सम्बन्ध में स्थानीय चुनाव आयोग को शिकायत दर्ज करवा रहे है/और समय रहते अगर यह अवैध रूप से हो रहा चुनावी चंदा बंद नहीं हुआ तो मुख्य चुनाव अधिकारी रावत साहेब को लिखित में शिकायत दिल्ली के पदाधिकारियों को दिल्ली में चुनाव आयोग भेजकर करेंगे / और साथ ही घर -घर, गली -गली ,गांव- गांव एवं शहर- शहर इस चुनावी चंदे को जनता के सामने चलचित्र के माध्यम से बताएँगे की किस प्रकार से राजनीती में काले धन का एकत्रीकरण कर चुनाव में खर्च किया जाता है /
नवीन कुमार अग्रवाल ,लोकसभा प्रभारी एवं प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य “आप”

आप मीडिया सेल
नीमच -458441
9826270178

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

mp

Leave a Comment