Scrollup

प्रेस रिलीज: 24 अक्टूबर 2018
भाजपा ने षडय़ंत्र के तहत किया आम जनता के धन का दुरुपयोग: आलोक अग्रवाल
आम आदमी पार्टी ने भाजपा के खिलाफ की आचार संहिता उल्लंघन की शिकायत
कहा- प्रदेश सरकार ने सुनोयोजित तरीके से सरकारी धन का उपयोग कर पहुंचाया भाजपा को फायदा

भोपाल, 24 अक्टूबर। आम आदमी पार्टी ने बुधवार को भाजपा के खिलाफ सरकारी धन का उपयोग करने, सुनियोजित षडय़ंत्र और सरकारी योजना का लाभ पार्टी द्वारा उठाए जाने के मामले में चुनाव आयोग के समक्ष आचार सहिंता के उल्लंघन की शिकायत दर्ज कराई और इस संदर्भ में तत्काल कार्रवाई की मांग की है।

आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष आलोक अग्रवाल ने मुख्य चुनाव अधिकारी के समक्ष की गई शिकायत में कहा है कि मध्य प्रदेश में सरकार ने सुनोयोजित तरीके से सरकारी धन का उपयोग कर भारतीय जनता पार्टी को फायदा पहुंचाने का षड्यंत्र किया है। उन्होंने कहा कि 18 सितम्बर, 2018 को फ्यूचरऑफएमपी डॉट इन नाम के डोमेन का रजिस्ट्रेशन यूटोपिया कन्सल्टिंग कंपनी के माध्यम से कराया गया। यूटोपिया कन्सल्टिंग वही कंपनी है, जो यह दावा करती है कि वह देश में चुनाव जिताने वाली सबसे सफल कंपनी है। ऐसे में स्पष्ट है कि सरकार ने इस कंपनी को आगामी चुनाव को ध्यान में रखकर कॉन्ट्रैक्ट दिया था। इसके संदर्भ में संलग्न एक-दो आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग को दिए।

श्री अग्रवाल ने कहा कि उपरोक्त से स्पष्ट है कि मध्य प्रदेश सरकार ने एक सोची समझी साजिश के तहत एक सरकारी अभियान शुरू किया, जिससे उन्होंने सार्वजानिक पैसा लगाकर समृद्ध मध्य प्रदेश की थीम हेशटैग एवं नारे “आईडिया में हो दम, तो पूरा करेंगे हम” का भरपूर प्रचार 25 सितम्बर से 5 अक्टूबर तक किया और 6 अक्टूबर को आचार संहिता लगते ही इस पूरे अभियान को समृद्ध मध्य प्रदेश का नाम देते हुए हैशटैग समृद्ध एमपी और नारे “आईडिया में हो दम, तो पूरा करेंगे हम” का भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में उपयोग प्रारंभ कर दिया। यह दोनों अभियान एक ही कंपनी यूटोपिया कन्सल्टिंग चला रही है। स्पष्ट रूप से यह सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी सरकार द्वारा अपनी शक्ति का भारतीय जनता पार्टी को चुनावी फायदा देने गंभीर षड्यंत्र है।

तीन बिंदुओं में समझें कैसे हुआ यह षडय़ंत्र

आचार संहिता के ठीक पहले तक किया सरकार ने हैशटैग का इस्तेमाल
श्री अग्रवाल ने आगे कहा है कि 25 सितम्बर 2018 को मध्य प्रदेश सरकार ने वेबसाइट फ्यूचर ऑफ एमपी लांच की और साथ ही फ्यूचर एम टास्कफोर्स नाम से फेसबुक और ट्विटर पर भी यह सरकारी अभियान शुरू कर दिया। 29 सितम्बर को ट्विट्टर हैंडल फ्यूचर एम टास्कफोर्स पर हैशटैग समृद्ध-एमपी का उपयोग शुरू किया गया। इस संदर्भ में संलग्न 3 और 4 दिए गए हैं। 5 अक्टूबर को सरकारी ट्विटर हैंडल फ्यूचरएमपी टास्कफोर्स से हैशटैगएमपी के साथ आखिरी ट्वीट किया गया।

आचार संहिता के बाद भाजपा ने हैशटैग फेसबुक पेज आदि का किया इस्तेमाल
6 अक्टूबर को चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश में आगामी चुनाव के मद्देनजर आचार संहिता लगा दी और 6 अक्टूबर को ही नये फेस बुक पेज समृद्ध एमपी और नये ट्विटर हैंडल समृद्ध मध्य प्रदेश उसी सरकारी हैशटेग समृद्धएमपी के साथ भारतीय जनता पार्टी का “समृद्ध मध्य प्रदेश अभियान” शुरू कर दिया गया। यहां यह ध्यान देने का विषय है कि फ्यूचर एमपी टास्कफोर्स के विवरण में जहां सरकारी संगठन लिखा है वहीँ समृद्ध एमपी पेज के विवरण में राजनीतिक संगठन लिखा हुआ है। इस संदर्भ में संलग्नक चार और पांच दिए गए हैं। श्री अग्रवाल ने कहा कि इस प्रकार सरकारी फ्यूचर एमपी टास्कफोर्स अभियान से समृद्ध एमपी हैशटैग को जनता के पैसे से खूब प्रचारित करने के बाद आचार संहिता लगते ही भारतीय जनता पार्टी ने इसे अपना अभियान बना लिया, जो कि सरकारी पैसे का गंभीर दुरूपयोग है।
एक ही कंपनी ने चलाए हैं दोनों अभियान, सब कुछ एक जैसा
उन्होंने कहा कि यह भी गौर करने वाली बात है कि सरकारी फ्यूचर एमपी टास्कफोर्स अभियान 25 सितम्बर को शुरू हुआ है और 26 सितम्बर को भारतीय जनता पार्टी ने समृद्ध एमपी डॉट इन नाम से डोमेन रजिस्टर कराया और यह डोमेन भी उसी यूटोपिया कन्सल्टिंग कंपनी की ओर से रजिस्टर किया गया जिसने फ्यूचरऑफएमपी डॉट इन का सरकारी डोमेन रजिस्टर किया था। इसके सबूत के तौर पर संलग्न छह दिया गया है। सरकारी फ्यूचर ऑफ एमपी अभियान का मुख्य नारा था “आईडिया में हो दम, तो पूरा करेंगे हम”, अब यही नारा “आईडिया में है दम, पूरा करेंगे हम” भारतीय जनता पार्टी के “सम्रद्ध मध्य प्रदेश” अभियान में उपयोग किया जा रहा है। यह भी उल्लेखनीय है कि सरकारी फ्यूचर ऑफ एमपी अभियान और भारतीय जनता पार्टी के “समृद्द मध्य प्रदेश” का यूजर इंटरफ़ेस और थीम भी सामान है, जिसे आज पूरे मध्य प्रदेश में चलाया जा रहा है। इस संबंध में संलग्नक सात, आठ और नौ दिए गए हैं।

इस मामले में आचार संहिता के खुले उल्लंघन की शिकायत करते हुए आम आदमी पार्टी ने निम्न मांग की हैं-
1. भारतीय जनता पार्टी के “समृद्ध मध्य प्रदेश” अभियान को तत्काल बंद कराया जाये। इसके पोस्टर, गाडिय़ां जब्त की जाएं और सभी तरह के विज्ञापन (सोशल मीडिया, होर्डिंग, टीवी, रेडियो आदि) बंद कराये जाएं।
2. सार्वजनिक पैसे पर विकसित और प्रचारित किये गये समृद्धएमपी हेशटैग एवं नारे “आईडिया में हो दम, तो पूरा करेंगे हम”, लोगों द्वारा भेजे गये आईडिया की बौद्धिक सम्पति का उपयोग भारतीय जनता पार्टी द्वारा करने से रोका जाये।
3. इस पूरे षड्यंत्र की जांच कर दोषियों के खिलाफ कड़ी करवाई की जाये।
4. इस षडय़ंत्र में शामिल कंपनी यूटोपिया कन्सल्टिंग को ब्लैक लिस्ट कर किसी भी तरह के चुनाव प्रचार से रोका जाये।

मीडिया सेल
आम आदमी पार्टी, मध्य प्रदेश

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

sudhir